निःशब्द NISHABD – HINDI POEM

निःशब्द NISHABD – HINDI POEM

निःशब्द गरीबी की मार कहें या प्रशासन की हार आम आदमी सहे सौ प्रहार | पैदल ही चल दिये मीलों घर के लिए ना हो सका कोई प्रबंध…

0
Like
Save

Comments

Comments are disabled for this post.